जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने जनता की समस्याएं सुन किया निस्तारण, अधिकारियों को दिए ये निर्देश…

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने सोमवार को जनता मिलन कार्यक्रम में दर्ज शिकायत/अनुरोध पत्रों के माध्यम से जनता की समस्याएं सुनी। इस मौके पर 37 शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गए, जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही निस्तारण कर शेष शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए शीघ्र कार्रवाई कर निस्तारित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।

जनता दरबार में पूर्व जिला पंचायत सदस्य अमेन्द्र बिष्ट ने बताया कि वर्ष 2022-2023 एवं 2023-24 में उनके द्वारा प्रस्तावित नैनबाग तहसील क्षेत्रान्तर्गत खनन प्रभावित गांवों को किसी भी योजना के माध्यम से धनराशि आवंटित नहीं की गई, जिस पर जिलाधिकारी ने खनन अधिकारी को पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत मयकोट विकासखंड भिलंगना निवासी मकानी देवी ने शिकायत की कि लोक निर्माण विभाग द्वारा डंप किए गए मालवे के कारण उनके आवासीय भवन खतरे की जद में है, जिसको लेकर जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी लोनिवि घनसाली को तत्काल कार्रवाई कर अवगत कराने के निर्देश दिए।

जौनपुर ब्लाक के ग्राम प्रधान मस्तराम नौटियाल ने ग्राम पंचायत मैड में पंचायत भवन की जरूरत को देखते हुए प्रशासनिक स्वीकृति और धनराशि की मांग की गई, जिसको लेकर जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गये। ग्राम पंचायत बुडोगी से पहुंचे पवेंदर सिंह चौहान ने लोक निर्माण विभाग चंबा द्वारा सफाई के दौरान जेसीबी से क्षतिग्रस्त हुई दुकान के मरम्मत हेतु शिकायत दर्ज करवाई, जिसको लेकर जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी लोनिवि चंबा को तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

ग्राम पंचायत सौंदयकोटी मल्ली से पहुंचे गोविंद सिंह नेगी ने बादशाहीथौल तिराहे पर सड़क किनारे पेड़ को वन विभाग द्वारा आधे काटे जाने की शिकायत की, जिस पर जिलाधिकारी ने डीएफओ टिहरी को तत्काल संज्ञान लेने के निर्देश दिए। इस अवसर पर सीडीओ मनीष कुमार, डीडीओ सुनील कुमार सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।