कांग्रेस नेता शैलेंद्र रावत ने की भाजपा में वापसी, कई समर्थकों ने भी ली सदस्यता…

उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव के लिए तैयारियां तेज हो गई है। दलबदल का खेल भी शुरू हो गया है। बताया जा रहा है कि कोटद्वार के पूर्व विधायक एवं कांग्रेस नेता शैलेंद्र रावत ने अपने समर्थकों सहित भाजपा में घर वापसी कर ली है। इसे बीजेपी की बड़ी सेंध माना जा रहा। जिससे चुनाव के पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है।

मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश भाजपा कार्यालय में कोटद्वार के पूर्व विधायक एवं कांग्रेस नेता शैलेंद्र रावत सहित गढ़वाल मंडल के विभिन्न क्षेत्रों में जनाधार रखने वाले कई नेताओं और निकाय व पंचायत प्रतिनिधियों ने भाजपा का दामन थामा है। बताया जा रहा है कि भाजपा का दावा है कि कार्यक्रम में कांग्रेस समेत विभिन्न दलों के लगभग ढाई हजार कार्यकर्ता पार्टी में शामिल हुए। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी, राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल ने इन सभी का भाजपा में स्वागत करते हुए उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई है।

गौरतलब है कि पूर्व विधायक शैलेंद्र रावत वर्ष 2012 में भाजपा छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे। अब उन्होंने घर वापसी की है। उनके अलावा विधानसभा की केदारनाथ सीट से दो बार निर्दलीय चुनाव लड़ चुके कुलदीप सिंह रावत, पूर्व मंत्री मातबर सिंह कंडारी के पुत्र राजेश कंडारी, देवप्रयाग नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल, पूर्व ब्लाक प्रमुख जयपाल पंवार, रुद्रप्रयाग जिला पंचायत के उपाध्यक्ष सुमंत तिवारी के साथ ही पुरोला, घनसाली, टिहरी, देवप्रयाग, रुद्रप्रयाग, कोटद्वार क्षेत्र से विभिन्न दलों के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।