उत्तराखंडः बीते 70 दिन से अपने जवान इकलौते बेटे को दर-दर खोज रहे बुजुर्ग मां बाप, जांच में जुटी पुलिस…

उत्तराखंड में एक बुजुर्ग मां बाप का बुरा हाल है। बुढ़ापे में जिस बेटे को उनका सहारा बनना था वो आज अपने सहारे को ढूंढ रहे है। उस बुजुर्ग दंपत्ति की हालत समझी जा सकती है जो बीते 70 दिन से अपने जवान इकलौते बेटे को दर-दर खोज रहे हो हर मुमकिन कोशिश कर रहे हो उसे देखने के लिए। ये दंपत्ति है ऋषिकेश के हनुमंतपुरम गंगानगर निवासी। बताया जा रहा है कि इनका 23 वर्षीय बेटा पिछले 70 दिनों से संदिग्ध परिस्थितियों में लापता है। लापता युवक घर का इकलौता चिराग है। पुलिस अभी तक युवक को तलाश नहीं कर पाई है। परिजन बेटे को खोजने की जहां गुहार लगा रहे हैं वहीं उन्होंने बेटे के जल्द न मिलने पर आत्महत्या करने की चेतावनी भी दे दी है।

मिली जानकारी के अनुसार गंगानगर हनुमंतपुरम गली नंबर 6 में रहने वाले पंकज कौशिक और रेखा कौशिक का 23 वर्षीय बेटा मयंक कौशिक लापता है, बताया जा रहा है कि मंयक ऋषिकेश के एक निजी क्लीनिक में नौकरी करता है। वह 30 सितंबर की रात को बेटा नौकरी से वापस आया और खाना खाने के बाद वॉक करने के लिए घर से बाहर निकल गया। जिसके बाद बेटे का फोन आया कि वह वॉक करके थोड़ी देर में आ जाएगा, लेकिन रात 11:00 बजे के बाद बेटे का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया और वह घर वापस नहीं लौटा। वहीं, एक अक्टूबर को पुलिस ने बेटे की गुमशुदगी का मामला दर्ज कर जांच शुरू की, लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस युवक की तालाश में जुटी है।

बताया जा रहा है कि लाचार मां-बाप ऋषिकेश कोतवाली पुलिस से लेकर डीजीपी तक से अपने बेटे को तलाश करने के लिए गुहार लगा चुके हैं लेकिन अभी तक उसका कोई भी सुराग नहीं लगा है।  युवक के मां -बाप ने चेतावनी दी है कि अगर उनका इकलौता बेटा जल्द ही वापस घर नहीं लौटा, तो वह आत्महत्या कर लेंगे। वहीं पुलिस सीसीटीवी फुटेज के साथ ही लापता युवक के मोबाइल को भी ट्रेश कर तलाश करने में जुटी है।