31 दिसंबर को खत्म हो रही है फाइनेंस से जुड़े कई कामों की डेडलाइन, जल्द करें ये काम…

साल 2023 खत्म होने वाला है। कैलेंडर ईयर का आखिरी महीना होने के कारण फाइनेंस से जुड़े कई कामों की डेडलाइन 31 दिसंबर को खत्म हो रही है। अगर आप इन कामों को जल्द पूरा नहीं करते है तो नए साल पर आपको नियम बदलने से नुकसान उठाना पड़ सकता है। इन कामों में डीमैट अकाउंट, यूपीआई आईडी, बैंक लॉकर एग्रीमेंट से लेकर ऐसी कई चीजें शामिल हैं, आइए जानते है 31 दिसंबर से पहले कौन-कौन से काम करना जरूरी है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार नए साल पर कई नियम बदलने वाले है इसमें यूपीआई आईडी भी अहम है।बताया जा रहा है कि  नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया एनपीसीआई (NPCI) ने सात  नवंबर को एक सर्कुलर जारी किया था, जिसमें पेमेंट ऐप्स और बैंकों से उन यूपीआई आईडी और नंबर्स को एक्टिव करने को कहा था, जो एक साल से बंद पड़े हैं. बैंकों को 31 दिसंबर तक इस सर्कुलर का पालन करना होगा।

बिलेटेड आईटीआर भरने की डेडलाइन

फाइनेंशियल ईयर 2022-23 यानी एसेसमेंट ईयर 2023-24 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की डेडलाइन 31 जुलाई, 2023 थी। जो लोग इस तारीख तक आईटीआर फाइल नहीं कर पाए, वे अब भी इसे फाइल कर सकते हैं। इसे बिलेटेड आईटीआर कहते हैं। इसके लिए लेट फीस और बकाये पर जुर्माना देना पड़ता है। फाइनेंशियल ईयर 2022-23 के लिए बिलेटेड आईटीआर भरने की डेडलाइन 31 दिसंबर, 2023 है।

डीमैट अकाउंट और म्यूचुअल फंड नॉमिनेशन से जुड़ी खबर

नियामक एजेंसी भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने डीमैट अकाउंट होल्डर्स के लिए नॉमिनेशन का विकल्प प्रदान करने की डेड लाइन बढ़ाकर 31 दिसंबर 2023 कर दी थी। इसके अलावा सेबी ने अकाउंट होल्डर को अपनी मौजूदगी में पैन, नॉमिनेशन, कांटेक्ट डिटेल, बैंक अकाउंट डिटेल और उनसे जुड़े फोलियो नंबर्स को लेकर स्पेसिमेन साइन सब्मिट के लिए 31 दिसंबर 2023 की तारीख तय की थी।

आरबीआई ने एग्रीमेंट की लास्ट डेट 31 दिसंबर 2023 रखी

वहीं केंद्रीय बैंक आरबीआई ने अब कस्टमर्ट को अपने बैंकों के साथ एक नया एग्रीमेंट साइन करने का आदेश दिया है. भारतीय रिजर्व बैंक ने ऐसा सेफ डिपॉजिट लॉकर के नए नियम के तहत किया है. नए नियम के अनुसार कस्टमर्स को लॉकर का इस्तेमाल करने का अधिकार केवल तब तक मिलेगा जब तक वो किराया भरते हैं। आरबीआई ने एग्रीमेंट की लास्ट डेट 31 दिसंबर 2023 रखी है।

​आईडीबीआई बैंक एफडी

आईडीबीआई बैंक ने दो करोड़ रुपये से कम राशि निवेश वाली फिक्स्ड डिपॉजट स्कीम की ब्याज दरों में संशोधन किया है। साथ ही बैंक ने अपनी स्पेशल डिपॉजिट स्कीम अमृत महोत्सव एफडी में निवेश की डेडलाइन 31 दिसंबर तक बढ़ा दी है। इससे निवेशकों के पास डिपॉजिट स्कीम्स के जरिए मोटा रिटर्न कमाने का मौका है। इसमें 375 दिन और 444 दिन की एफडी शामिल है। बैंक इस एफडी स्कीम पर सबसे ज्यादा ब्याज दे रहा है।