ईंट भट्टे की दीवार गिरने से अब तक 6 लोगों की मौत, मामले की होगी मजिस्ट्रेट जांच…

उत्तराखंड के रुड़की में मंगलवार सुबह हुए ईंट भट्टा हादसे का बड़ा अपडेट आ रहा है। बताया जा रहा है कि यहां मंगलौर कोतवाली क्षेत्र में भरभरा कर ईंट भट्टे की दीवार गिरने के मामले में डीएम ने बड़ा एक्शन लिया है। हादसे में मलबे में दब कर मरने वाले मजदूरों की संख्या 6 पहुंच गई है। डीएम ने हादसे की जांच के निर्देश दिए है तो वहीं मृतकों के लिए दो लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया गया है।

मिली जानकारी के अनसार हादसा मंगलौर कोतवाली के लहबोली गांव में हुआ । बताया जा रहा है कि लहबोली गांव में सवानी ब्रिक फील्ड है। यहां पर करीब सौ से अधिक श्रमिक काम कर रहे थे। इस समय भट्टे पर कच्ची ईंटों की भराई का काम चल रहा है। घोड़ा बुग्गी से श्रमिक ईंटों को भट्ठे के अंदर ले जाकर उनकी दीवार बना रहे थे। इसी बीच कच्ची ईंटों की दीवार भरभराकर गिर गई। जिससे बड़ी संख्या में श्रमिक ईटों के नीचे दब गए। घटना से पूरे इलाके में कोहराम मच गया। हादसे में 6 लोग जिंदा दफन हो गए। जबकि कई घायल हो गए। हादसे में पहले 5 लोगों की मौत की पुष्टि हुई थी।

मुख्यमंत्री ने घटना में दिवंगत श्रमिकों के आश्रितों को दो-दो लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है तथा दिवंगतों के प्रति शोक सम्वेदना व्यक्त करते हुए घायलों के शीघ्र स्वास्थ लाभ की कामना की है। वहीं जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने घटना स्थल का निरीक्षण कर  अधिकारियों को घायलों का अच्छा से अच्छा उपचार किए जाने के लिए निर्देश। उन्होंने संयुक्त मजिस्ट्रेट रूड़की को ग्राम लहबोली में ईंट भट्ठे की लोहे की प्लेट गिरने से उसके नीचे कई श्रमिकों के दबने की घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के निर्देश दिये हैं। उल्लेखनीय है कि इस घटना में छह श्रमिकों तथा एक घोड़े की असामयिम मृत्यु हुई है तथा दो श्रमिक जो घायल हुये हैं, उन्हें रूड़की के विनय विशाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने घायलों का हालचाल भी जाना।