“विकसित भारत संकल्प यात्रा” के तहत टिहरी की महिलाओं से सीएम ने किया संवाद, कही ये बात…

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने वर्चुअल माध्यम से “विकसित भारत संकल्प यात्रा” के तहत जनपद टिहरी गढ़वाल की महिला लाभार्थियों से संवाद किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 10 महिला लाभार्थियों के साथ संवाद कर उनके विचार भी जानें। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी और मुख्य विकास अधिकारी को विभिन्न पात्र लोगों को योजनाओं का पूरा लाभ देने एवं योजनाओं के व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी को निरंतर समूहों की मॉनिटरिंग करने तथा उनके उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए उन्हें आवश्यक सहायता उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए।

इस दौरान महिला लाभार्थियों द्वारा बताया गया कि केंद्र एवं राज्य सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से वे स्वयं लाभान्वित होकर अन्य को भी स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने का कार्य कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी संबंधित विभागों द्वारा केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं को आम जन तक पहुचाने के लिए शिविरों के आयोजन और व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। समाज के हर पात्र व्यक्ति को योजनाओं का पूरा लाभ मिल सके, इसके लिए उन्होंने विभिन्न योजनाओं का लाभ ले चुके लोगों को भी अन्य लोगों को इनकी जानकारी देने का आह्वाहन किया। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी और मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि विभिन्न पात्र लोगों को योजनाओं का पूरा लाभ मिल सके, इसके लिए योजनाओं के व्यापक प्रचार पर और अधिक ध्यान दिया जाय। उन्होंने कहा कि प्रदेश की मातृशक्ति द्वारा स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने की दिशा में सराहनीय कार्य किया जा रहा है। महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा बनाये जा रहे अनेक उत्पादों की मांग तेजी से बढ़ रही है। हमें उत्पादों की पैकेजिंग और मार्केटिंग की दिशा में और कार्य करने होंगे।

महिला समूहों के लाभार्थियों से वर्चुअल माध्यम से संवाद के दौरान महिलाएं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बातचीत करने के लिए उत्साहित नजर आई। उन्होंने खुलकर मुख्यमंत्री से बात कर अपने समूहों के उत्पादन, समूह से जुड़ी महिलाओं, विक्रय, आय आदि के बारे में जानकारी दी। आपसी संवाद के अवसर पर मनरेगा एवं मुख्यमंत्री पलायन रोकथाम योजना से लाभान्वित संगीता रावत, ग्राम मन्दार विकासखण्ड जाखणीधार ने बताया कि उनके स्वंय सहायता समूह के 07 सदस्यों के द्वारा मन्दार में बैकरी संचालित की जा रही है, जिसमें उत्पादन, मैनेजमंेट एवं सप्लाई का काम किया जा रहा है। इसके आलावा वे दुग्ध डेयरी, इंटरलॉक्स टाईल्स निर्माण यूनिट में टाइल्स बनाने का काम रहे है, उनकी सम्पूर्ण कार्यों से 10 से 15 लाख तक सालाना आय होती है।

जैविक आउटलेट एनआरएलएम योजना से लाभन्वित ग्राम छोटा स्यूटा की सीमा भण्डारी ने बताया कि उन्हें मनरेगा से फार्म मशीनरी बैंक एवं कॉमन वर्क शैड मिला है। आउटलेट में 10 लोग जुड़े है उनका वार्षिक टर्नऑवर 05 लाख है तथा प्रत्येक सदस्य 08 से 10 हजार कमा लेते हैं। ग्राम तिवाड़गांव थौलधार की उषा पंवार ने बताया कि वे कृषि एवं होमस्टे का काम कर रहे है। उन्हें मनेरगा से मशरूम शैड, पर्यटन से होमस्टे एवं कृषि विभाग से फार्म मशीनरी बैंक से वित्तीय सहायता मिली है। समूह से 05 सदस्य जुड़े है, इसके साथ ही बैंक सखी का काम भी कर रही है। अंजनी देवी ग्राम पाली चम्बा ने बताया कि उनके द्वारा पीएम आवास योजना का लाभ लिया गया है, जिसमें किचन, शौचालय आदि की व्यवस्था है। इसके साथ ही उनके द्वारा आयुष्मान कार्ड और बीपीएल कार्ड का भी लाभ लिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री को पीएम केयर फॉर चिल्ड्रन, स्पोन्सरशिप योजना तथा मुख्यमंत्री वात्सलय योजना से लाभान्वित पूजा एवं आरती ने बताया कि वे कक्षा 09 एवं 08 की छात्राएं तथा इन योजनाओं का लाभ मिल रहा है। वर्तमान में वे मामा के घर रह रहे हैं, इस पर मुख्यमंत्री ने डीएम और सीडीओ को निर्देश दिये अधिकारी बच्चों के गार्जन के रूप में उनकी देखभाल करेंगे। कहा कि बच्चों की लगातार मॉनिटरिंग करते रहें, उन्हें कोई परेशानी न हो। पीकेवीवाई/मिलेट मिशन योजना से लाभान्वित शोभना देवी ग्राम किन्सू विकासखण्ड जौनपुर ने बताया कि उन्होंने कृषि विभाग, मनरेगा से वर्मी कम्पोस्ट, घेरबाड़, यंत्र आदि का लाभ लिया है। इसके साथ जैविक आउटलेट चला रही हैं, जिसमें मंडवा, झंगौरा, राजमा व तौर की दाल आदि रखा गया है। उनके द्वारा 113 का सीसीएल भी कराया है, समूह की सलाना आय 05 लाख है। उनके द्वारा जी-20 में भी प्रतिनिधित्व किया गया।

ग्राम अलेरू छाम थौलधार की सुशीला देवी ने बताया कि उन्हें अटल आयुष्मान योजना के तहत बीमारी के दौरान दून अस्पताल में निःशुल्क इलाज की सुविधा प्राप्त हुई है जिसके बिल रू0 1.65 लाख का भुगतान योजना के अन्तर्गत होने के कारण उनकी आर्थिक बचत हुई है। आपसी संवाद के दौरान मुस्लिम मुहल्ला बौराडी नई टिहरी की रहीशा ने बताया कि उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 02 लाख की वित्तीय सहायता से पक्का मकान प्राप्त हुआ है। ग्राम किन्सू टिहरी की  सुषमा देवी ने बताया कि उन्हें दीनदयाल उपाध्याय किसान कल्याण योजना के तहत शून्य ब्याज पर 01 लाख की वित्तीय सहायता प्राप्त हुई। जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार होने के साथ ही गांव की 12 अन्य महिलाओं द्वारा भी योजना का लाभ लिया गया है। ग्राम दुगली की  संगीता डबराल ने बताया कि आटा चक्की एवं लधु संग्रहण केंद्र के माध्यम से वे स्वयं स्वरोजगार के साथ औरों को भी प्रेरित कर रही है।

जिलाधिकारी मयुर दीक्षित ने वर्चुअली मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत जनपद टिहरी की सभी ग्राम पंचायते कवर हो चुकी हैं। जनपद की महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान बढ़-चढ़कर भाग लिया गया। इस दौरान अधिकतम स्कीम को सेचुरेट कर लिया गया है। समूह की महिलाओं द्वारा स्वयं योजनाओं का लाभ लेते हुए अन्य को भी जागरूक करने का काम किया जा रहा है।