बड़ी खबर: श्याम स्टील ने रवि किशन को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया…

देहरादून- (12 फरवरी 2024) टीएमटी बार्स के अग्रणी निर्माता और उत्पादक श्याम स्टील ने भारतीय अभिनेता, नेता और फिल्म निर्माता रवि किशन को बड़े गर्व के साथ अपना ब्रांड एंबेसडर नियुक्त करने का ऐलान किया है। यह रणनीतिक सहभागिता खासकर बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के बाजारों में श्याम स्टील की उपस्थिति को मजबूत करने के लिए डिज़ाइन की गई है, जहां कंपनी एक महत्वपूर्ण स्थान रखती है।

श्याम स्टील इंडस्ट्रीज के निदेशक श्री ललित बेरीवाला ने इस जुड़ाव को लेकर अपना उत्साह व्यक्त करते हुए कहा, “रवि किशन हमारे ब्रांड में करिश्मे और भरोसे का एक अनूठा मिश्रण भरते हैं। भारतीय सिनेमा व राजनीति में उनकी चपल उपस्थिति, इस इलाके में उनकी अपार लोकप्रियता के साथ मिलकर, उन्हें इन प्रमुख बाजारों में श्याम स्टील का प्रतिनिधित्व करने वाला एकदम सही विकल्प बना देती है।”

वर्तमान में गोरखपुर सीट से लोकसभा सांसद रवि किशन ने नए संबंध को लेकर अपने विचार साझा किए, “मैं श्याम स्टील के साथ जुड़कर रोमांचित हूं। यह एक ऐसा ब्रांड है जो उत्कृष्टता और विकास के प्रति मेरी प्रतिबद्धता को साझा करता है। हम साथ मिलकर इन जगमगाते बाजारों के विकास में हाथ बंटाने तथा श्याम स्टील की विरासत को इस्पात उद्योग के लीडर के रूप में आगे बढ़ाने हेतु तत्पर हैं।”

श्याम स्टील ने हाल ही में घोषणा की थी कि उसका कारोबार ₹6,000 करोड़ तक पहुंच गया है, और कंपनी अगले दो से तीन वर्षों में ₹9,000 से ₹10,000 करोड़ का लक्ष्य सामने रखकर और अधिक वृद्धि की ओर अग्रसर है। विस्तार करने की अपनी नई पहलों के तहत, कंपनी ने मेजिया संयंत्र में एक नई इकाई शुरू की, जिससे उनकी एकीकृत इस्पात क्षमता 0.65 मिलियन टन से बढ़कर 1 मिलियन टन हो गई।

कंपनी की महत्वाकांक्षी विस्तार योजनाओं में एक नई ग्रीनफील्ड परियोजना के लिए पुरुलिया, रघुनाथपुर ब्लॉक में 600 एकड़ भूमि का अधिग्रहण करना भी शामिल है। यह 0.35 मिलियन टन की एकीकृत इस्पात इकाई वाली परियोजना, श्याम स्टील के ₹10,000 करोड़ के कारोबार का लक्ष्य हासिल करने में महत्वपूर्ण योगदान देगी। कंपनी 2030-31 तक 300 मिलियन टन इस्पात उत्पादन का लक्ष्य हासिल करने में अहम भूमिका निभाने के लिए समर्पित है, जो भारत के $5-ट्रिलियन की आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था में तब्दील हो जाने में योगदान देगा।

श्याम स्टील अपना चौतरफा विस्तार कर रही है। यह अपना वितरण नेटवर्क और ज्यादा फैलाने से लेकर अपनी उत्पादन क्षमता को 0.65 मिलियन टन से बढ़ाकर 1.35 मिलियन टन पहुंचाने जा रही है। कंपनी भारत की विकास गाथा में एक अहम भूमिका निभाने के लिए प्रतिबद्ध है, तथा रवि किशन से उसका जुड़ाव, दोनों के उत्कृष्टता व प्रगति वाले साझा मूल्यों की झलक दिखलाता है।