विजय दिवस- शहीद सैनिकों को किया गया, सैन्य सम्मान और पुष्पचक्र अर्पित कर दी गई श्रद्धांजलि

  • उत्तरकाशी, रिपोर्ट- प्रवेश नौटियाल

विजय दिवस के अवसर पर रीवर फ्रंट पार्क ज्ञानसू स्थित शहीद स्मारक स्थल में आयोजित कार्यक्रम में भारत-पाक युद्ध 1971 में भारतीय सेना की ऐतिहासिक विजय का समारोह मनाते हुए देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों का उत्सर्ग करने वाले शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस मौके पर 1971 के युद्ध में शहीद जिले के पटारा गांव के गार्ड्समैन सुन्दर सिंह की धर्मपत्नी अमरा देवी को सम्मानित करने के साथ ही विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

 

शहीद दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में भारतीय सेना के 11 जैकलाई यूनिट तथा महार रेजीमेंट के सैनिकों, आईटीबीपी के हिमवीरों, पुलिस के जवानों और एनसीसी कैडेट्स ने गार्ड आफ ऑनर पेश करने के साथ ही पुष्पचक्र अर्पित कर शहीद सैनिकों को सैन्य परंपरानुसार श्रद्धांजलि दी।

कार्यक्रम में विधायक गंगोत्री क्षेत्र सुरेश चौहान ,जिलाधिकारी अभिषेक रूहेला, वीरनारी अमरा देवी, अपर जिलाधिकारी रज़ा अब्बास, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आर.सी.एस.पंवार, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कैप्टेन (नेवी) रंजीत सेठ, वरिष्ठ कोषाधिकारी शिवेन्द्र कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी संतोष भट्ट, पर्यटन अधिकारी जसपाल सिंह चौहान, अभिहित अधिकारी अश्विनी कुमार, सहायक जिला सैनिक कल्याण अधिकारी एम.एस.राणा, विश्वनाथ पूर्व सैनिक संगठन के संरक्षक मेजर आरएस जमनाल व अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह नेगी, कर्मचारी नेता गोपाल राणा के साथ ही बड़ी संख्या में उपस्थित पूर्व सैनिकों तथा आम नागरिकों ने शहीद गार्ड्समैन सुन्दर सिंह के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर विधायक सुरेश चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि भारतीय सेना के जांबाज योद्धाओं के अप्रतिम शौर्य और पराक्रम के चलते 1971 के युद्ध में विकट परिस्थितियों के बावजूद भारतीय सेना ने ऐतिहासिक जीत हासिल की थी। इस युद्ध में हमारे लगभग 3900 सैनिकों ने शहादत दी और अंततः पाक सेना के 93000 सैनिकों को आत्मसमर्पण करने को मजबूर होना पड़ा। उन्होंने कहा कि इस अद्भुत विजय एवं सैनिकों के पराक्रम व बलिदान को हमेशा याद रख देश के प्रत्येक नागरिक को अपने कतर्व्य व देश के प्रति जिम्मेदारी का पूरी निष्ठा व ईमानदारी से निर्वाह करना होगा। यही शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

इस मौके पर रा.इ.का. उत्तरकाशी एवं रा.बा.इ.का जोशियाड़ा की छात्राओं के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए।

विजय दिवस के अवसर पर नगर में छात्रा-छात्राओं के द्वारा प्रभातफेरी भी निकाली गई तथा जिला खेल कार्यालय के तत्वावधान में क्रॉस कंट्री दौड़ का भी आयोजन किया गया। क्रॉस कंट्री दौड़़ में रोहित भट्ट (मानपुर) ने पहला, विष्णु राणा (मानपुर) ने दूसरा, ऋषभ सिंह (पनोथ) ने तीसरा, अभिनव (गंगोरी) ने चौथा और अनुज (फेडी) ने पांचवां स्थान हासिल किया।