उत्तरकाशी : आपदा में भूमिहीन हुए पात्र परिवारों को मिलेगा सरकारी भूमि का पट्टा

  • उत्तरकाशी

रविवार को भटवाड़ी प्रखंड में आयी प्राकृतिक आपदा में भूमिहीन हुए पात्र परिवारों को सरकारी भूमि का पट्टा दिया जाएगा। जिन ग्रामीणों की गोशाला क्षतिग्रस्त हुई है उनकी मनरेगा के अंर्तगत गोशाला बनायी जाएगी। आपदा ग्रस्त सभी गांव की निजी व सार्वजनिक परिसम्पत्तियों के नुकसान का जियोलॉजिस्ट से सर्वे कराया जा रहा है। यह बात जिलाधिकारी  मयूर दीक्षित ने मांडों, कंकराड़ी,मस्ताड़ी,थलन,बोंगाड़ी,सिरोर,निराकोट, साड़ा आदि ग्राम प्रधानों की बैठक लेते हुए कही।

शुक्रवार को जिलाधिकारी  दीक्षित ने एनआईसी कक्ष में आपदा प्रभावित गांव के जनप्रतिनिधियों व जीवन रेखा से जुड़े अधिकारियों के साथ बैठक की। जिलाधिकारी ने आपदा से हुई निजी व सार्वजनिक परिसम्पत्तियों की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्थाओं, पेयजल, जल निगम,सिंचाई,लोक निर्माण ,आरईएस आदि विभागों को आपदा प्रभावित गांव में क्षतिग्रस्त हुई पेयजल लाइनों,सड़कों,रास्तों, सुरक्षात्मक कार्यों, गोशालाओं, स्कूलों समेत निजी व सार्वजनिक परिसम्पत्तियों का 8 अगस्त तक स्टीमेट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। ताकि शीघ्र धनराशि जारी कर पुनःनिर्माण कार्यों को गति प्रदान की जा सकें। बरसात को देखते हुए ग्राम प्रधान मांडों द्वारा बताया गया कि गदरे के दोनों ओर सोलर लाइट लगाई जाए।

निराकोट ग्राम प्रधान द्वारा गदेरे के दोनों ओर सुरक्षात्मक कार्य कराने व खतरे की जद में आये मकानों को विस्थापित करने, पेयजल लाईन को दुरुस्त करने की मांग की गई। ग्राम प्रधान मस्ताड़ी द्वारा पेयजल टैंक बनाने व गांव के रास्ते ठीक कराने एवं जिन मकानों में दरार आयी हुई है अथवा खतरे की जद में है उन्हें विस्थापित किये जाने की बात कही। कंकराड़ी ग्राम प्रधान द्वारा पेयजल आपूर्ति के साथ ही गांव के आवागमन के लिए पुलिया बनाने की मांग की गई। सिरोर ग्राम प्रधान द्वारा क्षतिग्रस्त पम्पिंग योजना व पैदल रास्ते ठीक कराने की मांग की।

जिलाधिकारी ने सभी जनप्रतिनिधियों को भरोसा दिलाया कि शीघ्र ही आपदा से प्रभावित गांव में मूलभूत सुविधाओं को दुरुस्त कर लिया जाएगा। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि आपदा प्रभावित गांवों में राशन की उपलब्धता बनाये रखे। ग्रामीणों को राशन को लेकर कोई समस्या न आएं इस हेतु गांव में सस्ते गल्ले राशन विक्रेताओं से नियमित खाद्यान्न की उपलब्धता की जानकारी लेते रहें।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार,अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह, एसडीएम देवेंद्र नेगी, ब्लाक प्रमुख विनीता रावत, कनिष्ठ प्रमुख मनोज पंवार,ग्राम प्रधान मस्ताड़ी सत्यनारायण सेमवाल,कंकराड़ी विनोद गुसाईं, बोंगाड़ी वीरेंद्र गुसाईं, साड़ा सावित्री गुसाईं, मांडों धीरेंद्र चौहान सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।