सरकार ने किया 1 करोड़ 70 लाख करोड़ के राहत पैकेज का एलान, पढ़े किस किस को मिलेगी राहत

  • सनसनी सुराग / डेस्क

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत 1करोड़ 70 लाख करोड़ रुपये मंजूर,वित्त मंत्री सीतारमन ने प्रेस कर दी जानकारी,कहा अब कोई गरीब तथा मजदूर नही सोयेगा भूखा,पैकेज के प्रमुख बिंदु (1) किसान सम्मान निधि में अप्रैल माह के पहले सप्ताह खातों में पड़ जायेंगे रुपये 2000 (2)जनधन महिला खातों में 3 माह तक हर माह मिलेंगे 500 रुपये (3) उज्जवला कनेक्शन धारकों को 3 माह में मिलेंगे 3 सिलेंडर फ्री (४) प्रत्येक राशन कार्ड पर 1 किलो दाल और 5किलो चावल या गेंहू मिलेगा विल्कुल फ्री,बाकी राशन यथावत मिलता रहेगा (5) मनरेगा मजदूरी अब होगी 182 से बढ़कर 202 रुपये।साथ ही राज्य सरकारों के द्वारा भी अनेक कल्याणकारी कदम उठाए जा रहे है।मित्रों श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व वाली भारत की सरकार हम सब जीवन को बचाने के लिए दिन रात काम कर रही है,ऐसे में हम सबसे सरकार का जो आग्रह सोशल distancing एक दूसरे से थोड़ी दूरी और अपने ही घर में रहने की है उसे हमे सहर्ष स्वीकार करना चाहिए,हमने यूरोप का अमेरिका का तथा चीन हाल देख लिया है,इसे दूसरे देश का हाल समझ कर मजाक न बनाये ,यह सच है बिल्कुल सच आप चाहो तो अपने किसी सगे संबंधी फोन कर पूछ लें क्योंकि उत्तराखंड के हज़ारों युवक इन देशों में काम कर रहे है।आज देश मे कंपलीट lockdown है मोदी जी ने देश वासियों से आग्रह किया है लेकिन कई लोग इस आदेश की धज़्ज़ियाँ उड़ाते हुए देखे जा रहे है।दरसल हम भारतियों को नियम कानून में रहने की आदत नही है अब वक्त आ चुका है जब बंदिशे सहन करनी होंगी नही तो अंजाम बुरा होगा,सोच लो जब इटली केवल 6 करोड़ की आबादी ओर अच्छी स्वस्थ सेवाओं की दृष्टि से दुनियां का दूसरा देश इतनी कम आबादी में अपने लोगों को नही बचा सका तो हमारी क्या हालत होगी।

चेत्र प्रतिपदा और नवदुर्गा का प्रकाट्य पूजन का वक्त है अभी खेती किसानी का भी समय नही ठीक 14 अप्रैल lockdown समाप्ति की तिथि को ही गेहूं की फसल तैयार हो चुकी होगी यदि माँ भागवती ने चाहा तो देश्वासियों के दृढ़ संकल्प से कोरोना भी हार चुका होगा साथ ही तब तक इस बीमारी का इलाज भी मिल चुका होगा और मानवता फिर एक बार इस महामारी से जंग जीत चुकी होगी। एक और निवेदन उत्तराखंड के प्रत्येक गांव तथा शहर से कोई न कोई काम के लिए विदेश या दूसरे शहर में है यदि वो घर आये तो जरूर अपनी जांच करवा के ही अपने घर आये,क्योंकि विल्कुल स्वस्थ दिखने वाले व्यक्ति में भी कुछ समय बाद ये लक्षण प्रकट हो जाते है यदि उसका किसी positve से सम्पर्क हुआ है।

आवश्यक चिजों के लिए अनावश्यक परेशान न हों ,क्योंकि आपकी लोकप्रिय सरकार ने निर्यात पर पहले कंपलीट रोक लगा दी है देश के पास खाद्यान का पर्याप्त स्टॉक है,समाज के सक्षम लोग ये ना समझे कि वो साल भर का राशन जमा कर बीमारी से बच जाएंगे ,बल्कि उस गरीब की चिंता करें जो सही वक्त पर हमारा जरूरी काम करता है।इसलिए देश तथा प्रदेश सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन करें।