उत्तरकाशी 420 के मामले में एक और जालसाज को कानपुर से किया गिरफ्तार

 

  • उत्तरकाशी

पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी,  मणिकांत मिश्रा के कुशल नेतृत्व में ऑनलाईन ठगों/जालसाजों पर उत्तरकाशी पुलिस की कार्रवाईयां लगातार जारी है, मात्र 01 सप्ताह के अन्दर 420 के एक और मामले का खुलासा करते हुये उत्तरकाशी पुलिस द्वारा कल 14.07.2021 को 01 अभियुक्त को कानपुर, उत्तरप्रदेश से गिरफ्तार किया गया।

माह जनवरी 2021 डुण्डा निवासी, शिवानन्द भट्ट पुत्र  गीताराम भट्ट द्वारा कोतवाली उत्तरकाशी पर एक लिखित तहरीर दी गयी थी जिसमें उनके द्वारा बताया गया कि एक व्यक्ति जो अपना नाम संजीवन बता रहा है,द्वारा उनको फोनकॉल कर जिओ टॉवर लगाने के नाम पर उनके साथ जालसाजी कर 22,300 रु0 की ठगी/धोखाधड़ी की गई तहरीर के आधार पर त्वरित कार्यवाही करते हुये पुलिस द्वारा संजीवन(अज्ञात) के खिलाफ कोतवाली उत्तरकाशी पर धारा 420 भा.द.वि. के अन्तर्गत मुकदमा पंजीकृत करते हुये मामले से सम्बन्धित धनराशि को उसी समय फ्रीज करवा दिया गया था, मामले के अनावरण व अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु  पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी द्वारा क्षेत्राधिकारी उत्तराकाशी व थानाध्यक्ष कोतवाली को आवश्यक दिशानिर्देश दिये गये थे।

जिस पर क्षेत्राधिकारी उत्तरकाशी, हीरालाल बिजल्बाण के पर्यवेक्षण व  विनोद थपलियाल, थानाध्यक्ष कोतवाली उत्तरकाशी की देखरेख में मामले के अनावरण व अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु एस0आई0 संजय शर्मा, चौकी इन्चार्ज डुण्डा के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गठित की गयी थी, उक्त टीम द्वारा मोबाईल लोकेशन, कॉल डिटेल्स व अन्य जानकारियां जुटाकर अभियोग का सफल अनावरण कर मामले से सम्बन्धित अभियुक्त कृपाशंकर पुत्र मनोहर निवासी त्रिवेणी गंज विल्हौर कानपुर सिटी,उम्र 46 वर्ष को कल 14.07.2021 को कानपुर उत्तरप्रदेश से गिरफ्तार किया गया। पुछताछ मे अभियुक्त ने चित्रकुट, उ0प्र0 निवासी रमेश यादव के साथ टॉवर के नाम पर धोखाधडी कर मोटी रकम एंठने की बात भी बताई है, अभियुक्त से सख़्ती से पुछताछ की जा रही है, अग्रिम वैधानिक कार्रवाई प्रचलित है, अभियुक्त के आपराधिक इतिहास के सम्बन्ध में जानकारी जुटाई जा रही है।

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीमः
1- एसआई संजय शर्मा- चौकी इन्चार्ज डुण्डा
2- कानि0 ज्ञानचन्द्र- कोतवाली उत्तरकाशी
3- कानि0 माजिद खान- कोतवाली उत्तरकाशी।

धातव्य है कि 01 सप्ताह पूर्व उत्तरकाशी पुलिस द्वारा ऑनलाईन ठगी/धोखाधड़ी के मामले का खुलासा करते हुये मामले मे एक नाईजेरियन मूल के विदेशी समेत एक दम्पति को गिरफ्तार किया गया था, उक्त मामले में अभी पुलिस की तहकीकात जारी है,मामले से सम्बन्धित दम्पति के खिलाफ पूर्व में महाराष्ट्र 01 मुकदमा पंजीकृत था, अभियुक्तों की गिरफ्तारी के बाद विवेचना मे सामने आये तथ्यों के आधार पर उक्त अभियुक्तों की पार्सल के नाम पर धोखाधडी करने से सम्बन्धित 420 भा.द.वि. व आईटी एक्ट में पंजीकृत तेलांगना(03), उडीसा(01) व उत्तरप्रदेश मे 01 अभियोग में संलिप्तता पायी गयी है, जिस सम्बन्ध मे सम्बन्धित राज्यो के साईबर सेल से कॉरडिनेशन किया जा रहा है।

 

मणिकांत मिश्रा, पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी द्वारा आम जनता से अपील की गयी है कि “साईबर अपराधी आजकल धोखाधडी/जालसाजी के नये-नये तरीके खोजकर लोगों को धोखाधड़ी/जालसाजी का शिकार बना रहें हैं, सभी जनमानस साईबर अपराधों/ऑनलाईन ठगी/धोखाधड़ी के सम्बन्ध मे जागरुक रहे, अनावश्यक किसी के बहकावे में न आयें, लॉट्री/टॉवर लगाने/अन्य लालच भरे किसी अज्ञात कॉल/मेल/मैसेज/एप्प पर विश्वास न करें और न ही लॉट्री/लालच से सम्बन्धित किसी लिंक को क्लिक करें, अन्यथा आप धोखाधडी का शिकार हो सकते हैं।