बधाईः जितेश धारियाल बने वैज्ञानिक, इसरो में हुआ चयन

देहरादूनः उत्तराखंड के युवा हर स्तर पर अपनी कामयाबी के परचम लहरा रहे हैं। साथ ही प्रदेश का नाम भी रोशन कर रहे हैं। इस कड़ी में अब नैनीताल निवासी जितेश धारियाल का नाम जुड़ गया है। जितेश का चयन इसरो में हुआ है। अब वो भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में मैकेनिकल वैज्ञानिक के तौर पर सेवाएं देंगे। उनकी इस कामयाबी से परिवार में खुशी का माहौल है। जितेश को बधाई देने वालों का तांता लग गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हल्दुचौड़ के दुर्गापालपुर निवासी जितेश धारियाल का चयन भारत सरकार अंतरिक्ष विभाग के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, शार आंध्र प्रदेश स्थित इसरो में हुआ है। उन्हें इसरो की ओर से नियुक्ति पत्र भेज दिया गया है। बता दें कि जितेश के पिता कैलाश धारियल भारतीय जीवन बीमा निगम के वरिष्ठ अधिवक्ता एवं सेंचुरी पेपर मिल के कर्मचारी हैं। बताया जा रहा है कि जितेश के पिता कैलाश धारियल भारतीय जीवन बीमा निगम के वरिष्ठ अधिवक्ता एवं सेंचुरी पेपर मिल के कर्मचारी हैं। उन्होंने

अगर जितेश की पढ़ाई की बात करें तो वह हमेशा पढ़ाई में टॉप करते रहे है। उन्होंने साल 2010 में आर्यमान विक्रम बिरला स्कूल हल्द्वानी से हाईस्कूल किया। इस वक्त उन्होंने परीक्षा में टॉप टेन में जगह बनाई। इंटरमीडिएट में जितेश ने 96 प्रतिशत अंक पाए। उन्होंने एनआईटी कुरुक्षेत्र से बीटेक किया है। इसके बाद वो इंद्रप्रस्थ गैस दिल्ली में सेवाएं देने लगे। यहां साल 2017 में उनका डिप्टी मैनेजर के पद पर प्रमोशन किया गया। उस वक्त मुख्यमंत्री की ओर से उन्हें 50 हजार रुपये का पुरुस्कार देकर सम्मानित किया गया था।

बधाईः जितेश धारियाल बने वैज्ञानिक, इसरो में हुआ चयन