रसोई गैस की हो होम डिलवरी : डीएम

जिलाधिकारी द्वारा जनपद के सभी प्रबंधक, गैस सर्विस, पिथौरागढ़ की बैठक आहूत कर इनको गैस की होम डिलवरी करने के आदेश दिये गये थे और इसके बावजूद भी होम डिलीवरी न होने के संबंध में शिकायते जिलाधिकारी के संज्ञान में आ रही थी। सोमवार 10 जुलाई, 2017 को जिलाधिकारी सी0 रविशंकर द्वारा कुमौड़ में वाहन से वितरित किए जा रहे गैस सिण्डलरों का निरीक्षण करने पर पाया गया कि गैस उपभोक्ताओं द्वारा जिसमें अधिकांश महिला भी सम्मिलित थी, के द्वारा स्वंय अपने सिर पर सिलैण्डर ले जा रहीं थी और मौके पर उपभोकताओं द्वारा पूछें जाने पर उनके द्वारा बताया गया कि उनको गैस की होम डिलीवरी नहीं की जा रही है जबकि उनसे होम डिलीवरी की धनराशि प्रबन्धक, गैस सर्विस, तिलढुंकरी पिथौरागढ़ द्वारा ली जा रही है।
उक्त संबंध में जिलाधिकारी द्वारा पूर्व में गैस सिण्डलरों की होम डिलवरी करने हेतु आदेशित किए जाने के बावजूद प्रबन्धक गैस सर्विस, तिलढुकरी पिथौरागढ़ द्वारा आदेशों का उल्लघंन किया जा रहा है तथा उच्चाधिकारियों के आदेशों की निरंतर अवेहलना की जा रही है। उन्होंने कहा कि गैस सर्विस तिलढुकरी पिथौरागढ़ द्वारा उपभोक्ताओं की होम डिलीवरी की धनराशि से गैस ढुलान ठेकेदार को अनैतिक रूप से आर्थिक लाभ पहुंचाया जा रहा है जिसमें उनकी स्वयं की संलिप्तता भी संभावित है। उन्होंने उक्त संबंध में कड़ा रूख अपनाते हुए प्रबंधक गैस सर्विस तिलढुकरी पिथौरागढ़ को आदेशों की अवेहलना करने पर माह अप्रैल 2017 से अब तक उपभोक्ताओं को कराये गये घरेलू गैस सिलैण्डरों की होम डिलवरी की धनराशि को इनके अग्रिम वेतन से वसूली किये जाने के निर्देश दिए है। जिलाधिकारी ने कहा कि उक्त धनराशि की वसूली नहीं किए जाने पर संबंधित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।