उत्त्तरकाशी : बर्फवारी के बीच यमनोत्री धाम के कपाट 6 माह के लिए हुए बंद

 

  • उत्त्तरकाशी

विश्व प्रसिद्ध यमुनोत्री धाम के कपाट आज भैया दूज अभिजीत मुहूर्त के पावन पर्व पर आज दोपहर 12 बजकर 25 मिनट पर विधि विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। कपाट बंद होने के अवसर पर यमुनोत्री धाम में भारी तादाद में श्रद्धालू मौजूद रहे श्रद्धालुओं में उत्साह इस कदर था कि भारी बर्फबारी और बारिश के बीच हुई श्रद्धालु मां यमुना के नारों का उद्घोष कर रहे थे।


धाम में तीर्थपुुरोहितो ने भारी बर्फबारी के बीच यमुना जी की उत्सव मूर्ति को डोली यात्रा के साथ यमुना जी के मायके खरसाली पहुंचाया इससे पहले खरसाली से यमुना के भाई समेश्वर (शनि) देवता की डोली यमुनोत्री के लिए रवाना हुई।यमुनोत्री में विशेष पूजा-अर्चना एवं धार्मिक अनुष्ठान के साथ अभिजित मुहूर्त पर दोपहर 12 बजकर 25 मिनट पर यमुनोत्री मंदिर के कपाट बंद किए गए। वहीं यमुना जी की उत्सव मूर्ति को डोली यात्रा के साथ तीर्थ पुरोहितों के गांव खरसाली लाया गया। जहां ग्रामीणों ने यमुना का भव्य स्वागत किया।