बदरीपूरी में सर्दी के साथ सफेद आफत का सितम पागल नाला के ऊपर ऐसे हुआ “हिमस्खलन”

  • संजय कुँवर / बदरीनाथ

एक तरफ जहाँ समूचा उत्तरी भारत जबरदस्त शीत लहर और कोहरे के आगोश में है वही उत्तराखंड के पहाड़ी इलाके भी सदी की सबसे जादा रिकॉर्ड सर्दी के सितम के सितम से जूझ रहे है जोशीमठ नगर सहित बद्री पूरी का आलम ये है कि दिन में ही तापमान शून्य से कई नीचे माईनस में चला जा रहा जिससे छेत्र में कड़ाके की हाड़ कंपा देने वाली ठंड पढ़ रही है,वही हाई एल्टीटयूड एरिया में ऊँची चोटियों से सफेद आफत हिमस्खलन का खतरा बना हुआ है।

ऐसा ही एक खतरनाक एवलाँच हाल ही में बदरीनाथ धाम के नजदीक हाई वे सड़क पर आया है, आप इस तस्वीरों में देख सकते की कि तरह से बर्फबारी के बाद ऊँची चोटियों से बर्फ फिसल कर हिमस्खलन नामक सफेद मौत का बवंडर बन जाती है।

बर्फ बारी के बाद चटक धुप हिमस्खलन के खतरे को बडाता है,ये एवलाँच के रूप में कभी भी भारी नुकसान कर सकता है,ये नजारा है बदरीनाथ धाम से कुछ किलो मीटर पहले पागल नाला के ऊपर आये इस एवलाँच की लाइव और एक्सक्लूसिव तस्वीरें,देखे किस तरह से चोटियों से बर्फ की गंगा बहती चली आ रही है,गनीमत रही की उस वक्त बदरीनाथ हाई वे पर कार्यरत BRO के इंजीनियर और मजदूर समय रहते सड़क के दूसरी छोर पर पहुच गये वरना बहुत बड़ा हादसा हो सकता था।