इण्डो-नेपाल ट्रेड फेयर के छठें दिन लोक कलाकारों ने दी रंगारंगा प्रस्तुतियां

 

  • देहरादून 

 परेड ग्राउंड में इण्डो-नेपाल ट्रेड फेयर एण्ड टूरिज्म फेस्टेवल के अर्तगत नेपाल के कंचनपुर चैम्बर आॅफ कामर्स एण्ड इंड्रस्ट्री एवं रियल होस्ट के तत्वाधान में चल रहा है। इंडो-नेपाल टेªड फेयर एवं टूरिज्म फेस्टेवल में प्रतिदिन संध्याकाल में पूरा ट्रेड फेयर संगीत मय हो जाता है। इसी कड़ी में मेले के छठे दिन मुख्य अतिथि के रूप में उत्तराखण्ड राज्य मंत्री धन सिंह रावत, माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार के ओएसडी धिरेन्द्र पंवार व व्यापारी उमेश अग्रवाल जी के द्वारा दीप प्रज्जलित कर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरूआत हुई। नेपाल कंचनपुर चैम्बर आॅफ कामर्स एण्ड इंड्रस्ट्री के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जंग बहादुर मल ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों उपस्थित सभी अतिथियों का स्वागत किया।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ वंदना (महासु) देवता खोली का गणेश मोरी कानैर से हुई। इसके बाद कार्यक्रमों में गढ़वाली घस्यारी डांस हे दीदी हे भुली हे ब्वारी हरो-हरो घास हवेगी…, तांदी लोकनृत्य मिजाज हौंसिया…, जौनसारी युगल नृत्य बिजोरा ले.., हिमांचली नांटी ठेकेदार… गीतों पर सपना चैधरी, रेनू पंवार, मिलन व सचिन ने अपनी प्रस्तुतियां देकर मेले में मौजूद सभी लोगों का मन मोह लिया। वीर गोरखा कल्याण समिति की ओर से लीसा व प्रतीक भट्ट ने नेपाली गीत चैरी चटा परी…, बेबी अनुष्का थापा ने मौ मगर को छोरी… व रैली खोला बगर… गीतों पर अपनी सुन्दर प्रस्तुतियां दी। उत्तराखण्ड लोक गायिका कुसुम नेगी ने गढ़वाली एवं हिन्दी गीतों से परेड़ ग्राउड पर मौजूद सभी लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों में उपस्थित मुख्य अतिथि उत्तराखण्ड राज्य मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि भारत व नेपाल में व्यापार की अपार संभावना है इसी को मद्देनजर रखते हुए इस मेले का आयोजन किया गया है। उन्होंने देहरादून वासियों से आग्रह किया कि वे नेपाल की संस्कृति तथा नेपाल के उत्पादों को खरीदें नेपाल में कई प्रकार की जड़ी बूटियां पाई जाती है जो यहां आप लोगों के लिए उपलब्ध है। हमारी संस्कृति काफी मिलती है इसलिए हम एक दूसरे के पूरक हैं। उन्होंने इण्डो-नेपाल ट्रेड फेयर के लिए सभी अधिकारियों को बधाई दी।

माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार के ओएसडी धिरेन्द्र पंवार ने भी सभी अधिकारियों को बधाई दी और कहा कि हमें इस तरह के मेलों का आयोजन हर साल करना चाहिए, जिससे दोनों देशों के बीच व्यापार की संभावना बढ़ेगी।

परेड ग्राउंड में इण्डो-नेपाल ट्रेड फेयर एण्ड टूरिज्म फेस्टेवल के छठें दिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अवसर पर व्यापारी उमेश अग्रवाल,केसीसीआई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जंग बहादुर मल, कार्यकारी अधिकृत प्रेम सिंह भाट, डोईवाला भाजपा मंडल अध्यक्ष श्रवण कुमार प्रधान, स्थानीय कोर्डिनेटर सुर्य बिक्रम शाही अध्यक्ष गोर्खा इन्टरनेशनल सोसियो कल्चरल फाउन्डेशन, विशाल थापा सचिव हैल्प क्राॅस सहति सैकड़ों लोग उपस्थित थे।