उत्त्तरकाशी : 60 केंद्रों में 11071 छात्र-छात्राएं देगें बोर्ड परीक्षाएं

  • उत्त्तरकाशी

आगामी एक मार्च से प्रारम्भ होने वाली परिषदीय परीक्षा की व्यवस्थाओं संबंधी बैठक लेते हुए जिलाधिकरी डा. आषीष चौहान ने जनपद में निष्पक्ष, पारदर्षिता से नकलविहीन परीक्षा समपन कराने के निर्देष केन्द्र व्यवस्थापकों व प्रभारियों को दिए।

जिलाधिकारी ने समुन सभागार में केन्द्र व्यवस्थापकों व केन्द्र प्रभारियों को संबोंधित करते हुए कहा कि परिक्षाओं को निर्विघ्न व निष्पक्ष समपन कराना हम सभी का दायित्व हैं इसलिए सभी केन्द्र प्रभारी व्यवस्थापक सक्रिय व संवेदनषील होकर परीक्षाओं को समपन कराना सुनिष्चित करेगें। उन्होंने कहा कि प्रष्न पत्रों की गोपनियता बनायें रखने हेतु द्विताला में सुरक्षित रखें, किसी प्रकार की कोताही करने पर शक्त कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्रों में छापेमारी हेतु मजिस्ट्रेट लगाएं जाएंगे वे स्वंय भी क्षेत्रों का भ्रमण करेंगे।
पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने कहा कि परीक्षा के दौरान पर्याप्त सुरक्षाबल उपलब्ध कराया जाएगा। सचल दलों के साथ भी सुरक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त रखी जाएगी। संवेदनषील परीक्षा केन्द्रों में अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था लगायी जाएगी।

मुख्य षिक्षाधिकारी रमेष चन्द्र आर्य ने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों व केन्द्र प्रभारियों को निर्देष दिए कि संवेदनषीनल होकर सौंपे गए कार्यो का निष्पादन करना सुनिष्चित करेंगे तथा किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाष नहीं की जाएगी। उन्होंने बताया कि जनपद में बोर्ड की परीक्षा में 11071 छात्र-छात्राएं परीक्षाएं देगी जिसके लिए 60 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं, जिसमें 07 परीक्षा केन्द्र संवेदनषील चिन्ह्ति हैं। उन्होंने बताया कि परीक्षाओं को निष्पक्ष निर्विघ्न समपन करने हेतु जनपद को 9 सेक्टरों में बांटा गया हैं, साथ ही तीन सचल दल भी लगाएं गए हैं।
बैठक में जिला षिक्षाधिकारी माध्यमिक रामेन्द्र कुषवाह,सहित सभी खण्ड षिक्षाधिकारी, उप खण्ड षिक्षाधिकारी, सभी केन्द्र व्यवस्थापक,केन्द्र प्रभारी उपस्थित थे।